उत्तर प्रदेश

जानिए क्या है उत्तर प्रदेश सरकार की पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना

जानिए क्या है उत्तर प्रदेश सरकार की पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना

उत्तरप्रदेश के सभी विकास खंडों में मुख्य बाजारों में स्ट्रीट लाइट लगवाने के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना शुरू की जाएगी। इस योजना के तहत विकास खंडों के मुख्य बाजारों में सोलर स्ट्रीट लाइटें लगवाई जाएंगी।

नेडा के अधिकारियों के मुताबिक एलईडी सोलर स्ट्रीट लाइट दी जाएगीं। इससे पर्यावरण संरक्षण को भी बढ़ावा मिलेगा। इस योजना का उद्देश्य यूपी के बाज़ारों में सोलर लाइट लगाकर बिजली की बचत एवं उपरोक्त रोशनी की प्रदान करना है।

क्या है पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना

उत्तर प्रदेश सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत बाजारों को सोलर लाइट की व्यवस्था की जाएगी। इस योजना का उद्देश्य यूपी के बाज़ारों में सोलर लाइट लगाकर बिजली की बचत एवं उपरोक्त रोशनी की प्रदान करना है। इस योजना को केंद्र सरकार से वित्तपोषित है। इस योजना के माध्यम से बिना बिजली के भी विकास खंडों के मुख्य बाजार रोशन हो सकेंगे। बिजली न होने पर अंधेरे में बाजार के आवागमन में आने वाली परेशानी भी दूर हो सकेगी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है उत्तर प्रदेश की खाद्य सहायता योजना, इन लोगों को स्सते में मिलेगा ये सामान

इस सोलर स्ट्रीट लाइट योजना के अंतर्गत, ज़िले के प्रत्येक ब्लॉक में दो बाज़ारों का चयन किया जाएगा तथा मथुरा के 10 ब्लॉक के अंतर्गत 20 बाजार चयनित होंगे। इसके लिए प्रदेश में पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना लागू करने का फैसला किया गया है। प्रदेश सरकार का मानना है कि सामुदायिक पथ प्रकाश मूलभूत आवश्यकता है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना का उद्देश्य

* प्रदेश के सभी ब्लॉकों के मुख्य बाजारों में विद्युत की आपूर्ति में बाधा अथवा प्रकाश की व्यवस्था अपर्याप्त होने के कारण शाम से देर रात्रि तक जनसामान्य को आवागमन में कठिनाई और दैनिक कार्यों में दिक्कतें आती हैं।

* सोलर स्ट्रीट संयत्र के माध्यम से मुख्य बाजारों में पथ प्रकाश की व्यवस्था होने पर सामाजिक परिवेश में कार्य क्षमता में वृद्धि होगी।


* इसके साथ ही सुरक्षा, कुटीर उद्योगों में वृद्धि से जनसामान्य की आय में वृद्धि, स्वच्छ वातावरण का निर्माण एवं पर्यावरण अनुकूल हरित ऊर्जा के प्रति जागरूकता पैदा होगी।

* यह योजना नेडा के माध्यम से चलाई जाएगी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है ओडिशा सरकार की लाखों युवाओं के लिए कौशल प्रशिक्षण योजना

* सोलर स्ट्रीट लाइट संयत्रों की स्थापना से बाजारों में शाम से सुबह होने तक स्वतः पथ प्रकाश की व्यवस्था उपलब्ध होगी।

* इस योजना के माध्यम से सोलर स्ट्रीट लाइट लग जाने के बाद इससे राहत मिल जाएगी।

* स्ट्रीट लाइट में 75 वाट का सोलर माड्यूल, 12 वोल्ट की प्लेट और बैटरी और एलईडी लाइट्स लगाई जाएंगी।

* जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है, जिसमें सीडीओ, बीडीओ, नेडा अधिकारी होंगे।

* खंड विकास अधिकारियों से बाजरों का चयन करने को कहा गया है।

* कमेटी की संस्तुति के बाद उन बाजारों की सूची शासन को भेजी जाएगी। वहां से बजट आने के बाद काम शुरू कर दिया जाएगा।


पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना के लाभ

* पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट संयत्र के माध्यम से मुख्य बाजारों में प्रकाश/पथ प्रकाश की व्यवस्था होने पर सामाजिक परिवेश में कार्य क्षमता में वृद्धि, सुरक्षा, कुटीर उद्योगों में वृद्धि से जनसामान्य की आय में वृद्धि, स्वच्छ वातावरण का निर्माण एवं जनसामान्य में योजना के प्रचार-प्रसार के साथ-साथ पर्यावरण अनुकूल हरित ऊर्जा के प्रति जागरूकता उत्पन्न होगी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, दुर्घटना के बाद मिलेंगे दो लाख

* एलईडी आधारित सोलर स्ट्रीट लाइट संयत्र में 75 वाट पीक क्षमता का सोलर माड्यूल,


* 12 वोल्ट 75 एम्पियर घण्टा की लेड एसिड ट््यूबलर पाजिटिव प्लेट,


* लो-मेन्टिनेन्स बैटरी,


* 12 वाट क्षमता की एलईडी आधारित ल्यूमिनरी,


* 5 मीटर लम्बाई का जीआई पोल,


* बैटरी बाक्स,

* इलेक्ट्रानिक्स केबिल एवं आवश्यक हार्डवेयर होते हैं।

* पं दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट संयत्रों की स्थापना से सार्वजनिक बाजार में सांयकाल से सुबह होने तक स्वतः पथ प्रकाश (आटोमेटिक स्ट्रीट लाइटिंग) की व्यवस्था उपलब्ध होगी।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना के तथा चयनित शहर व बाजार

राया


चौमुहां

फरह

बाजना

बलदेव

महावन

गोकुल

सौंख

राधाकुंड

गोवर्धन

नंदगांव

बरसाना

छाता

कोसीकलां आदि

सीडीओ यशु रुस्तगी ने जनपद के सभी खंड विकास अधिकारियों को आदेशित कर कहा है कि, “विकास खंड अंतर्गत दो बाजारों की सूची जल्द भेजी जाएं,” जहां सोलर लाइट बाजारों में लगाई जा सकें। इसका इस्टीमेट सीडीओ ने जल्द भेजने के दिशा निर्देश सभी खंड विकास अधिकारियों को दिए हैं। यह योजना नेडा के माध्यम से अमल में लाई जा रही है।

Click to comment

Most Popular

To Top