मुख्यमंत्री योजना

जानिए क्या है राजस्थान सरकार की सहयोग उपहार योजना, बेटी की शादी में सरकार देगी पैसा

जानिए क्या है राजस्थान सरकार की सहयोग उपहार योजना, बेटी की शादी में सरकार देगी पैसा

जानिए क्या है राजस्थान सरकार की सहयोग उपहार योजना, बेटी की शादी में सरकार देगी पैसा

राजस्थान सरकार द्वारा सामाजिकन्याय एवं अधिकारिता विभाग की ओर से महिलाओं के लिए सहयोग एवं उपहार योजना शुरू की गई है। योजना के तहत बीपीएल परिवार आर्थिक दृष्टि से कमजोर परिवार की कन्याओं के विवाह के लिए विभाग की ओर से सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के साथ मूल निवास प्रमाण पत्र बीपीएल कार्ड सहित कई आवश्यक दस्तावेज लगाने होंगे। यह योजना एक अगस्त से शुरू हो गई है।

कई साल से चल रही सहयोग योजना और विधवा पुत्री विवाह योजना को एक साथ जोड़कर अब सहयोग उपहार योजना तैयार की गई है। राजस्थान राज्य की “सहयोग उपहार योजना” के तहत बेटी की शादी के लिए दी जाने वाली राशि को बढ़ाया गया है।

इस योजना के अंतर्गत बेटी के 18 वर्ष की आयु में शादी करने पर सहायक राशि प्रदान की जाएगी। ये सहयोग उपहार योजना 1 अप्रैल, 2017 के बाद होने वाले विवाहों पर प्रदान की जाएगी।

इस योजना में लाभवन्ति शहर के साढ़े 6 हजार बीपीएल परिवार, पांच हजार समकक्ष परिवार सहित अंत्योदय परिवार, विधवा महिलाओं तथा अनाथ बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है बिहार सरकार की 11वीं और 12वीं छात्रों के लिए छात्रवृत्ति योजना

क्या है सहयोग उपहार योजना

सहयोग उपहार योजना राजस्थान सरकार द्वारा शुरु की गई योजना है इस योजना द्वारा सरकार गरीब परिवार या विधवा महिला की पुत्री की विवाह कराने में आर्थिक सहायता प्रदान करती है राजस्थान राज्य की “सहयोग उपहार योजना” के तहत बेटी की शादी के लिए दी जाने वाली राशि को बढ़ाया गया है यह सहयोग उपहार योजना 1 अप्रैल, 2017 के बाद होने वाले विवाहों पर प्रदान की जाएगी।

सहयोग उपहार योजना में मिलने वाली राशि

विधवा महिला की स्नातक पुत्री को मिलने वाली राशि 20 से बढ़ाकर 40 हजार कर दी गई है।


विधवा महिला की 18 वर्ष से अधिक आयु की पुत्री को मिलने वाली राशि 10 से बढ़ाकर 20 हजार कर दी गई है।


10वीं पास कन्या के विवाह के लिए 20 से बढ़ाकर 30 हजार रुपये राशि कर दी गई है।


नोट : यह राशि 1 अप्रैल, 2017 के बाद होने वाले विवाह आयोजन के लिए देय है।


इसे भी पढ़े   जानिए क्या है भारत कौशल मिशन योजना, 34 लाख बेरोजगारों को सरकार देगी पैसा

सहयोग उपहार योजना में लाभ

इस योजना में सामाजिक अधिकारिता विभाग बेटियों की शादी के लिए 10 हजार रुपये प्रदान करती थी और इस राशि को बढ़ाकर 20 हजार रुपये कर दिए गए है।

सहयोग उपहार योजना के तहत 10 वीं 12वीं पास करने के बाद बेटियों की शादी करने पर 15 के स्थान पर अब 30 हजार रुपए मिलेंगे।
इसके अलावा ग्रेजुएशन करने वाली बेटियों की शादी पर 20 हजार की बजाय 40 हजार रुपए मिलेंगे।

इस योजना का लाभ केवल राजस्थान के मूल निवासियों को दिया जाएगा।


इस योजना के अंतर्गत 18 वर्ष से अधिक आयु की दो बेटियों को लाभ दिया जाएगा।


योजना में राज्य के समस्त वर्ग के बीपीएल, अंत्योदय परिवार और आस्था कार्ड धारी परिवार लाभ ले सकेंगे।


सहयोग उपहार योजना में कब आवेदन करें

इस योजना का लाभ लेने के लिए बेटी के अभिभावक को आवेदन करना होगा। जोकि पुत्री के विवाह से एक माह पहले व विवाह के 15 दिन बाद तक आवेदन कर सकते है। इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए ई-मित्र सहित अन्य स्थानों से कर सकते है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है उत्तर प्रदेश सरकार की e district परियोजना, ऐसे मिलेगा लाभ

उसके बाद अधिकारी की ओर से 15 दिन में निस्तारण किया जाएगा। अभिभावक को आवेदन के समय विवाह का पंजीयन प्रमाण- पत्र अपलोड करना होगा एवं अन्य संबंधित प्रमाण पत्र भी संलग्न करने होंगे।

सहयोग उपहार योजना में किन शर्तो पर लाभ मिलेगा

राजस्थान की सहयोग उपहार योजना को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित किया जा रहा है। योजना में सहायक निदेशक के अनुसार सरकार की ओर से सहायक राशि को दोगुनी कर दिया गए है।

इस योजना में आर्थिक दृष्टि से कमजोर विधवा महिलाओं की पुत्रियों के विवाह के लिए व पति की मौत होने पर महिला ने दूसरी शादी नहीं की हो तो उसको इस योजना का पात्र बनाया जाएगा।

विधवा महिला की वार्षिक आय 50 हजार से अधिक नहीं हो व परिवार में 25वर्ष या इससे अधिक उम्र का कमाने वाला नहीं हो। इस योजना की पात्र ऐसी बेटियां भी होंगी जिनके माता पिता दोनों का देहांत हो गया है।

Click to comment

Most Popular

To Top