2018 तक गांव-गांव में पहुंचेगी बिजली, योगी सरकार की ‘सर्वोदय योजना’ करेगी मदद
उत्तर प्रदेश

2018 तक गांव-गांव में पहुंचेगी बिजली, योगी सरकार की ‘सर्वोदय योजना’ करेगी मदद

भारत में मौजूदा मोदी सरकार ने साल 2018 तक सभी गांवों तक बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। गांव, शहर, जिला या फिर कस्बा… भारत को कोई भी कोना बिजली से वंचित नहीं रहेगा। इसी लक्ष्य को पूरा करने के लिए जोरो-शोरों से काम चल रहा है।

केंद्र सरकार ने भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युतीकरण के लिए ‘दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति’ जैसी योजना शुरू की है, जिससे ग्रामीण क्षेत्रों के दूर-दराज इलाकों में जहां-जहां बिजली नहीं पहुंच पाई है, वहां बिजली पहुंचाई जाये। इसी योजना के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने भी विद्युतीकरण के लिए एक योजना बनाई है। इस योजना का नाम है ‘सर्वोदय योजना’।

सर्वोदय योजना गरीबों का घर रोशन करने में अहम भूमिका निभा रही है। इसमें न केवल विद्युत कनेक्शनों की संख्या में इजाफा हुआ है बल्कि शासन के राजस्व में वृद्धि के साथ ही लाइन लॉस में भी व्यापक कमी आ रही है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है बिहार सरकार की मछली बीमा योजना, मछली पालकों को मिलेगा मुआवजा

प्रत्येक घर तक बिजली पहुंचाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार द्वारा दीनदयाल ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत विद्युत उपकेंद्रों का निर्माण कराकर सुदूर अंचलों में भी बिजली पहुंचाई जा रही है। वहीं, हर घर को कनेक्शन प्रदान करने के लिए यूपी की योगी सरकार द्वारा सर्वोदय योजना के तहत पोस्टपेड योजना के तहत कनेक्शन प्रदान किया जा रहा है। इससे जहां गरीबों को बिजली कनेक्शन लेने में सुविधा हो रही है वहीं बिजली चोरी पर भी अंकुश लग रहा है।

आइए एक नजर क्या है ये योजना-

उत्तर प्रदेश में इस योजना के तहत केवल 125 रूपये जमा करा कर कोई भी व्यक्ति बिजली कनेक्शन ले सकता है। बाकि बची राशि का भुगतान उपभोक्ता किश्तों के जरिए कर सकता है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, करें ऑनलाइन अप्लाई

केवल BPL को नहीं APL को भी मिलेगा बिजली कनेकशन

उत्तर प्रदेश में BPL परिवारों को बिजली कनेक्शन मुफ्त में दिये जा रहे हैं। इसी को देखते हुए बिजली कनेक्शन से APL परिवार क्यों वंचित रहे, इसलिए सर्वोदय योजना पेश की गई है। सर्वोदय योजना के अंतर्गत APL परिवारों के आर्थिक रूप से असक्षम लोगों के लिए भी विद्युत कनेक्शन लेना सहज साबित हो रहा है। इसका व्यापक प्रभाव भी देखने को मिल रहा है। उत्तर प्रदेश उन गांवों तक भी बिजली पहुंच रही है, जहां आजादी के 70 साल तक बिजली की रोशनी नहीं पड़ी है।

सर्वोदय योजना का लाभ

सर्वोदय योजना के कारण परिक्षेत्र का कालाहांड़ी कहे जाने वाले भाठ क्षेत्र में भी विद्युत कनेक्शनों की संख्या में अप्रत्याशित रूप से इजाफा हुआ है। लोहिया गांव रणहोर में कुछ वर्ष पूर्व समग्र विद्युतीकरण के उद्देश्य से विभाग द्वारा दस केवीए क्षमता वाले 62 ट्रांसफार्मर स्थापित किये गये थे। इसके बाद भी आर्थिक अभाव व अन्य कारणों से कनेक्शनों की संख्या के आंकड़ें को भी स्पर्श नहीं कर पायी थी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है उज्जवल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना, अपने गांव में 24x7 बिजली के लिए करें ये काम


इन क्षेत्रों में बढ़ी बिजली कनेक्शन की संख्या

वर्तमान में रणहोर गांव में बिजली कनेक्शनों की संख्या बढ़कर 750 पार कर गयी है। इसी प्रकार गुलालीडीह में 125, सिदहवां में 95, पिपरी सोनवानी में 250 से अधिक ग्रामीणों द्वारा कनेक्शन लिया जा चुका है।

2018 तक गांव-गांव में पहुंचेगी बिजली, योगी सरकार की ‘सर्वोदय योजना’ करेगी मदद
Click to comment
To Top