झारखंड

झारखंड में कृषि में ग्रामीण युवाओं को आकर्षित करने के लिए आर्या योजना

झारखंड में कृषि में ग्रामीण युवाओं को आकर्षित करने के लिए आर्या योजना

झारखंड मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य में हरित क्रांति लाने के लिए नयी आर्या योजना की शुरुआत की है। ग्रामीण युवकों को कृषि की ओर आकर्षित करने के लिए इस योजना की शुरुआत की जा रही है ताकि प्रत्येक गांव की बंजर भूमि को कृषि योग्य बनाया जा सके। इस योजना के तहत कृषि को बढ़ावा देने के साथ राज्य के खाद्यान्न क्षेत्र को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया जाएगा।

आर्या योजना की शुरुआत

मुख्यमंत्री रघवर दास द्वारा राज्य में हरित क्रांति लाने हेतु एक अच्छी पहल की गई है। ग्रामीण युवकों को कृषि की ओर आकर्षित करने के उद्देश्य आर्य योजना अर्थात Attracting rural youth in agriculture (ARYA )शुरु की जा रही है।

योजना लागू करने का प्रमुख उद्देश्य

ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को कृषि व उससे संबंधी क्षेत्र से जोड़ने के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है। ताकि शहरों की ओर पलायन करने वाले युवाओं को उनके ही गांव में कृषि आधारित रोजगार एवं नियमित आय मिलना संभव हो सके। इसके अलावा योजना के जरिए युवाओं का एक नेटवर्क स्थापित किया जाएगा, ताकि कृषि उत्पादों प्रसंस्करण, विपणन एवं मूल्य संवर्द्धन जैसे कार्यों को गति दी जा सके।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है उत्तर प्रदेश सरकार की समाजवादी एम्बुलेंस सेवा, ऐसे मिलेगा लाभ

झारखंड मुख्यमंत्री रघुवर दास निर्देश

योजना घोषित करने के दौरान राज्य मुख्यमंत्री ने विभिन्न कार्यरत हितधारियों के साथ समन्वय स्थापित कर, कृषि के क्षेत्र में उपलब्ध संभावनाओं का उपयोग सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है।

इतना ही नहीं सरकार ने इस योजना के तहत महिलाओं को भी प्राथमिकता दी जाने की योजना बनाई है। साथ ही उन्हें प्रशिक्षित करने का विचार विमर्श किया है।

आर्य योजना से जुड़े ख़ास तथ्य

  • योजना के तहत कृषि क्षेत्र में युवाओं के कौशल विकास का निर्णय लिया गया है।
  • योजना के तहत कृषि तकनीकी प्रबंधन एवं प्रशिक्षण जैसी संस्थाओं के माध्यम से प्रत्येक गांव के युवक को इस योजना से जोड़ा जाएगा।

  • प्रशिक्षण के बाद उन युवकों से गांव में ही कृषि को बढ़ावा देने के लिए सेवा ली जाएगी।

  • आर्या कार्यक्रम के तहत प्रत्येक गांव से दो युवक का चयन कर उन्हें प्रशिक्षित किया जाएगा।

  • यह युवक गांव की भूमि को चिह्नित कर उसे योग्य बनाने तथा किसानों को दलहन की खेती के लिए प्रोत्साहित करेंगे।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है आंध्र प्रदेश सरकार की नि:शुल्क स्मार्टफोन योजना, ऐसे मिलेगा लाभ

योजना प्रमुख विशेषताएं जिनसे मिलेगा झारखंड निवासी को लाभ

  1. राज्य मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य को खाद्यान्न के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से आर्या योजना का शुभारंभ किया है।
  2. आर्या के तहत झारखंड के हर गांव से दो युवकों को चयनित कर कृषि में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

  3. प्रशिक्षण उपरांत चयनित युवक गांव की बंजर भूमि को उपजाऊ बनाने का प्रयास करेगा। इस तरह प्रत्येक गांव की अयोग्य भूमि को खेती योग्य बनाने की कोशिश की जाएगी।
  4. योजना के जरिए किसान, खेती करने के प्रति आकर्षित होंगे। साथ ही पलायन करने पर मजबूर नहीं होंगे।

योजना महत्वपूर्ण बातें

  • सरकार इस योजना के तहत कृषि क्षेत्र से करीब 65000 युवा जोड़ने की योजना बना रही है।
  • कृषि के क्षेत्र में युवाओं का कौशल विकास होना संभव है।
  • भूमि को कृषि योग्य बनाने के लिए इस कार्य में युवाओ को जोड़ा जा रहा है।
  • 8-10 लाख हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि तैयार की जा सकेगी।
  • दलहन की खेती को मिलेगा बढ़ावा, साल में दो फसलों से होंगे किसान खुशहाल।
Click to comment

Most Popular

To Top