प्रधानमंत्री योजना

जानिए क्या है भारत सराकर की महात्मा ज्योतिबा फुले जन स्वास्थ्य योजना, लाखों का इलाज होगा मुफ्त

जानिए क्या है भारत सराकर की महात्मा ज्योतिबा फुले जन स्वास्थ्य योजना, लाखों का इलाज होगा मुफ्त
जानिए क्या है भारत सरकार की महात्मा ज्योतिबा फुले जन स्वास्थ्य योजना, ऑनलाइन करें आवेदन

भारत सरकार ने लोगों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए एक नई योजना की शुरूआत की है। जिसका मकसद लोगों की स्वास्थ्य का ख्याल रखना है। यूं तो इस योजना के तहत कोई भी अपना इलाज करा सकता है। मगर जो लोग गरीब तबके से आते हैं। उन्हें पहले मौका देने का प्रावधान इस योजना में रखा गया है। हालांकी ये योजना पहले से चल रही है।

मगर लोगों तक सही से न पहुंच पाने के चलते सरकार ने इसका नाम बदल कर फिर से शुरू किया है। इस योजना का नाम पहले ‘राजीव गांधी जीवनदायी स्वास्थ्य योजना’ था जिसे बदल कर सराकर ने अब महात्मा ज्योतिबा फुले जन स्वास्थ्य योजना कर दिया है। लोगों तक इस योजना का लाभ सही से पहुंच सके इसके लिए सरकार ने पहले से अलग कदम भी उठाए हैं।

महात्मा ज्योतिबा फुले जन स्वास्थ्य योजना लागू करने का प्रमुख उद्देश्य

विकास की ओर एक गति से बढ़ रहा भारत आज भी गरीबी के मसले पर कई देशों से पीछे है। ऐसे में इन गरीब और असहाय लोगों को कई सुविधा पहुंचाने का काम सरकार द्वारा किया जाता है। ये योजना भी इसी उद्देश्य को ध्यान में रखकर शुरु की गई है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है आंध्र प्रदेश सरकार की ब्रॉडबैंड इंटरनेट के लिए फाइबर ग्रिड परियोजना

गरीबी है मौत का कारण

देखा जाए तो गरीबी के कारण कई लोग अपना इलाज नहीं कर पाते जिस वजह से वह मर जाते है। वहीं कुछ लोगों को उन्हीं के घरवालें बीमारी की वजह से घर से बाहर निकाल देते है। ऐसे गरीब परिवार में कोई बीमार न हो या बीमार हो तो उसका इलाज संभव हो सके। इस मकसद से राज्य में महात्मा ज्योतिबा फुले जन स्वास्थ्य योजना का शुभारंभ किया जा रहा है।

किन बीमारी में मिलेगी सरकारी सुविधा

नए राष्ट्रीय बाल स्वास्थय कार्यक्रम के अंतर्गत पेडियाट्रिक सर्जरी व पेडियाट्रिक मेडिकल मैनेजमेंट उपचार पद्धति और कूल्हे और घुटने के प्रत्यारोपण, सिकलसेल अनॉमिया, डेंगु, स्वाइन फ्लू जैसी अन्य महत्वपूर्ण उपचारों को इस योजना के तहत शामिल किया गया है। सरकार इस योजना के तहत मरीजों की सुविधा के लिए जल्द ही एक कॉल सेंटर भी शुरु करने की योजना बना रही है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है मध्य प्रदेश की युवा स्व रोजगार योजना, युवा ऐसे पा सकते हैं लाखों की मदद

योजना में किए गए नए बदलाव

योजना के नए स्वरुप में किडनी ट्रांसप्लांटेशन की सहायता राशि 2.50 लाख रुपए से बढ़ाकर 3 लाख रुपए कर दिया गया है।

इसके अतिरिक्त हृदय रोग, कैंसर, प्लास्टिक सर्जरी, स्त्री रोग, नेत्र रोग, मोतियाबंद समेत 971 से ज्यादा ऑपरेशनों के प्रकारों को बढ़ाकर 1034 कर दिया गया है।

योजना में एक और महत्वपूर्ण बदलाव यह किया गया है कि इलाज का खर्च प्रति परिवार को डेढ़ लाख रुपए से बढ़ाकर दो लाख रुपए कर दिया गया है।

इनको मिलेगा लाभ

लाभार्थी इस योजना के तहत किसी भी सरकारी अस्पताल में डेढ़ लाख रुपए तक का इलाज करा सकता है।
इस योजना के तहत किसी भी लाभार्थी की आय 1 लाख रुपए से कम होनी चाहिए और 2 या 2 से कम बच्चे होने चाहिए।
जरुरी दस्तावेज
सालाना आय सर्टिफिकेट
राशन कार्ड
पीला कार्ड
बीपीएल कार्ड
मरीज की बीमारी का विवरण
मरीज के तीन रंगीन फोटो
डॉक्टर का प्रमाण पत्र, जिसमें बीमारी की जानकारी समेत उस पर आने वाले खर्च का जिक्र हो।
योजना प्रमुख जानकारी

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है ‘अटल मिशन रिजुवनेशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन’, कैसे आपका कस्बा बनेगा शहर

गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले 2.26 करोड़, पीला और केसरिया राशन कार्ड धारक परिवार वैसे ही सरकारी आश्रम, स्कूलों, अनाथालाय व वृद्धाश्रम, पत्रकार व आत्म हत्या ग्रस्त किसानों के 14 जिलों के सफेद राशन कार्ड किसान परिवारों को योजना में समाहित किया गया है।
https://www.jeevandayee.gov.in/

Click to comment

Most Popular

To Top