प्रधानमंत्री योजना

जानिए क्या है भारत सरकार की सहज बिजली योजना, अब हर घर को मिलेगी सौभाग्य योजना


जानिए क्या है भारत सरकार की सहज बिजली योजना, अब हर घर को मिलेगी सौभाग्य योजना


भारजीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक के संस्थापक रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ख़ास योजना का ऐलान किया गया है। इस योजना का नाम ‘सहज बिजली हर घर, सौभाग्य योजना’ है। जिसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हर गांव और हर शहर की बिजली समस्या से निपटने के लिए लागू किया है। योजना के तहत प्रत्येक गांव और शहर में 2019 तक सप्ताह के सातों दिन और चौबीस घंटे बिजली पूर्ति की जाएगी।

पीएम मोदी ने दिल्ली स्थित ओएनजीसी के नव निर्मित कारपोरेट ऑफिस में इस योजना का शुभारंभ किया था। बतातें चलें कि PVVNL ने ‘सहज बिजली हर घर, सौभाग्य योजना’ का शुभारंभ का लाइव टेलीकास्ट करने का निर्णय लिया था। जिसकी जानकारी स्वयं कंपनी के एमडी अभिषेक प्रकाश ने दी थी। यह प्रक्रिया 25 सितंबर शाम पांच बजे से लेकर साढ़े सात बजे तक चलाई गई।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है सीएम योगी की किसान कर्ज माफी योजना, यहां से आप भी करवाएं अपना कर्ज माफ

क्या है सहज बिजली योजना

सहज बिजली योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 25 सितम्बर 2017 को दिल्ली स्थित ओएनसीजी के नवनिर्मित कारपोरेट ऑफिस में की गई। इस योजना को गांव और शहर को रोशन करने की टैगलाइन दी गई है जिसके जरिए हाउसहोल्ड सर्वे को संतृप्त किया जाएगा।

हाउसहोल्ड सर्वे में अभी भी काफी घरों में कनेक्शन नहीं है। देखा जाए तो यह योजना दशहरे के अवसर पर देशवासियों के लिए बड़ी राहत है। जिसके तहत सरकार देश के हर गांव हर परिवार को 24 घंटे बिजली की सौगात देने जा रही है। इस योजना के तहत सभी गांवों के सभी घरों में सातों दिन और 24 घंटे बिजली देने के लिए योजना है।

सहज बिजली हर घर सौभाग्य योजना लागू करने का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के हर घर को बिजली की सुविधा प्रदान करना है। भारतीय जनसंघ के राजनेता और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पंडित दीनदयाव उपाध्याय के जन्म शताब्दी समारोह के अवसर पर यह योजना शुरु की गई है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है किसान विकास पत्र योजना, किसान कैसे कर सकते हैं अपने पैसे डबल

सहज बिजली हर घर, सौभाग्य योजना लक्ष्य

योजना का प्रमुख लक्ष्य 2019 के लोकसभा चुनाव है, दरअसल 2019 में लोकसभा के चुनाव होने है ऐसे में बीजेपी किसी भी हाल में सत्ता अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहती। ऐसे में वो योजनाओं की भरमार के साथ लगातार गरीब समुदाय को लक्षित बनाती आई है।

इस योजना के तहत भी ख़ासतौर से गांवों को टारगेट किया गया है। योजना के मुताबिक 2019 तक हर गांव में दिन के 24 घंटे बिजली पूर्ति की जाएगी। बिजली पॉवर फॉर ऑल योजना के तहत देश के 4 करोड़ परिवारों को बिजली मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है उत्तर प्रदेश की मातृत्व हितलाभ योजना, अब गर्भवती महिलाओं को मिलेंगे 12 हजार रुपये

बिजली उपकरणों पर दी जाएगी सब्सिडी

इस योजना के तहत ट्रांसफार्मर, मीटर और तार जैसे बिजली उपकरणों पर सरकार द्वारा सब्सिडी दी जाएगी। दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना के तहत इस योजना को चलाने का प्रस्ताव है।

योजना प्रमुख बिंदु

  • योजना का प्रमुख उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों के सभी गांवों को बिजली प्रदान करना है।
  • इस योजना के तहत सरकार गांवों या शहरों में सभी घरों में बिजली का सर्वेक्षण करेगी।
  • ये योजना पंडित दीनदयाल उपाध्याय की स्मृति में शुरू की गई।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्रामीण क्षेत्रों को सस्ती कीमत पर सभी सुविधाएं प्रदान करने के लिए कई कदम उठाए हैं।
  • ये केंद्र सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है जो देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के जीवन में चमक लाएगा।
Click to comment

Most Popular

To Top