दिल्ली

जानिए क्या है दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएम शहरी), ऑनलाइन करें आवेदन

जानिए क्या है दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएम शहरी), ऑनलाइन करें आवेदन


‘प्रधानमंत्री आवास योजना’ के तहत दिल्ली में भी शहरी गरीबों के लिए मकान बनाने की योजना को मंजूरी दी गई है। राजधानी दिल्ली में शहरी गरीब कहें जाने वाले लोगों के लिए मकानों का निर्माण डीडीए और दिल्ली स्टेट अर्बन हाउसिंग शेल्टर बोर्ड करेगा। दिल्ली में इस समय ढाई लाख मकानों की कमी है। ऐसे में योजना से उम्मीद की जा सकती है कि जल्द ही इस योजना के तहत और मकानों का निर्माण शुरु हो सकेगा।

क्या है दिल्ली की प्रधानमंत्री आवास योजना

हाउसिंग मिनिस्टर एम.वेंकैया नायडू द्वारा दिल्ली में मकान बनाने के लिए कुछ शर्तों में छूट देने को मंजूरी दी गई। योजना के तहत देशभर में अब तक 18 लाख मकानों के निर्माण को मंजूरी दी जा चुकी है। लेकिन दिल्ली के लिए एक भी मकान को मंजूरी नहीं दी गई। वहीं डीडीए और डीएसयूआईबी ही केंद्र सरकार के साथ अग्रीमेंट साइन करेंगे जिसके बाद मकानों का निर्माण किया गया।

दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक ‘प्रधानमंत्री आवास योजना’ के तहत अब दिल्ली के शहरी गरीब को भी योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा। दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 3 नवंबर 2016 से शुरु की गई थी। इसके लिए आवेदक को नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर से संपर्क करना था।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है महाराष्ट्र सरकार की पालनमंद्री पानंद रस्ते योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना की महत्वपूर्ण बातें

  • इसके लिए आवेदक को नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर से संपर्क करना था।
  • फॉर्म भरने के लिए केवल 25 रुपए खर्च करने थे।
  • आधार कार्ड होना जरुरी था वहीं आधार न होने पर वेरिफिकेशन के बाद आवेदन किया जा सकेगा।
  • कॉमन सर्विस सेंटर्स पर इस योजना के तहत भरे जाने वाले फॉर्म के लिए आवेदकों को रसीद भी दी गई।
  • इस रसीद में आवेदक की फोटो लगी होगी।
  • इस रसीद के जरिए आवेदन के स्टेटस का पता लगाया जा सकेगा।
  • आवेदकों को योजना की पूरी जानकारी और आवेदन करने के लिए अपने नजदीक के कॉमन सर्विस सेंटर पर जाना होगा।      
  • प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बीपीएल ही नहीं बल्कि हर उस व्यक्ति को घर मिलेगा जो आर्थिक सर्वे में गरीब पाया गया है।
इसे भी पढ़े   जानिए क्या है प्रधानमंत्री विकल्प योजना, अब त्योहारों पर रेल में मिलेगा कन्फर्म टिकट

प्रधानमंत्री आवास योजना की प्रमुख विशेषताएं

  • ऑनलाइन आवेदन की शुरुआत 3 नवंबर 2016 को की गई थी।
  • सरकार की प्रक्रिया को आसान बनाने और ज्यादा से ज्यादा लोगों को आवेदन का मौका देने के लिए यह व्यवस्था की गई है।
  • योजना के तहत देश भर में स्थापित 60,000 कॉमन सर्विस सेंटर्स पर यह फॉर्म भरे जा सकेंगे।
  • योजना के तहत 25 रुपए में एक फॉर्म भरा जाएगा।

कैसे करें आवेदन

  • प्रत्येक गरीब दिल्ली निवासी इस योजना का लाभ उठा सकता है।
  • वो गरीब जिसके पास कच्चा मकान है वो बीडीपीओ या फिर एडीसी कार्यालय में पहुंचकर अपना नाम उस लिस्ट में देखें जो आर्थिक

आधार पर तैयार की गई है।

  • यदि उस लिस्ट में नाम नहीं है तो इन एडीसी कार्यालय में गरीब व्यक्ति आवेदन करने के लिए योग्य है।
  • यहां से अपने आप संबंधित ग्राम सचिव व बीडीपीओ से जांच करा ली जाएगी।
  • अब आवेदन के लिए बीपीएल होना या फिर सरपंच के प्रस्ताव की कोई आवश्यकता नहीं है।
इसे भी पढ़े   जानिए क्या है डिजिटल ग्राम योजना, अब आपका गांव बनेगा डिजिटल

योजना के तहत मिलने लगी अधिक राशि

पहले योजना के अंतर्गत 81000 रुपए की धनराशि दी जाती थी। अब यह राशि बढ़ाकर 1 लाख 38 हजार कर दी गई है। इसके अलावा आवेदक को अपने ही घर में मनरेगा के तहत मजदूरी के लिए 90 दिन भी दिए जा रहे हैं। 90 दिनों की मजदूरी 277 रुपए के हिसाब से 24 हजार 930 बनती है।

योजना बनी पहले से सरल और सुलभ

सरकार ने घर बनाने के लिए नियमों को जहां सरल किया है वहीं राशि में भी बढ़ोतरी की है। इस नई योजना से जिले में लाभार्थियों की संख्या बढ़ गई है। इतना ही नहीं जिन लोगों के नाम आर्थिक जनगणना में गरीबी के दायरे में है उन्हें सरपंचों की हाथजुड़ी करने की जरुरत नहीं है सीधे बीडीपीओ व एडीसी कार्यालय में आवेदन कर सकते है।

Click to comment

Most Popular

To Top