छत्तीसगढ़

जानिए क्या है छत्तीसगढ़ सरकार की महतारी जतन योजना, महिलाओं को मिलेगा ये लाभ


जानिए क्या है छत्तीसगढ़ सरकार की महतारी जतन योजना, महिलाओं को मिलेगा ये लाभ


छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह द्वारा महतारी जतन योजना की शुरुआत की गई है। जिसका शुभारंभ मंत्री जी ने कोरिया जिले से किया था। योजना के तहत आंगनबाड़ी केंद्रों द्वारा गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक और गर्म आहार उपलब्ध किया जाता है।

ये प्रक्रिया सप्ताह के 6 दिन चलती है। इस ख़ास योजना को लागू करने का प्रमुख उद्देश्य कुपोषण मुक्त प्रदेश बनाना है। जिससे जिन शिशु का जन्म हो वह स्वस्थ रहे।

महतारी जतन योजना लागू करने का प्रमुख उद्देश्य

प्रत्येक गर्भवती महिला के लिए जरुरी है कि उन्हें पौष्टिक आहार खिलाया जाएं। जिससे उनके स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके गर्भ में पल रहे शिशु की सेहत भी स्वस्थ रहें। अक्सर देखा जाता है कि एक गरीब परिवार में गर्भवती की सेहत का कुछ ख़ास नहीं रखा जाता। सवाल ये है कि जहां दो वक्त का खाना मुश्किल से मिलता हो।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है श्यामा प्रसाद रूर्बन मिशन, कैसे आपके गांव को मिल सकेगी 10 करोड़ की राशि

वहां गर्भवती के लिए पौष्टिक आहार मिलना कैसे संभव हो। ऐसी महिलाएं कुपोषण का शिकार न बनें और न ही उनके शिशु इस घातक बीमारी की चपेट में आएं। इस कारण ही छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा महतारी जतन योजना का शुभारंभ किया गया। जिससे प्रत्येक गरीब गर्भवती महिला भी गर्म और पौष्टिक आहार खाने की अधिकारी होगी।

महतारी जतन योजना की प्रमुख विशेषताएं

महतारी जतन योजना की प्रमुख विशेषताएं

महतारी जतन योजना की प्रमुख विशेषताएं

  • महतारी जतन योजना के तहत आंगनबाड़ी केंद्रो में गर्भवती महिलाओं को सप्ताह के 6 दिन गर्म व पौष्टिक आहार दिया जाएगा।
  • योजना के अनुसार इस पौष्टिक आहार में खाद्य सामग्री, प्रोटीन तथा कैलोरी नियमित मात्रा में होगी।
  • योजना के तहत 130 ग्राम चावल, 30 ग्राम मिक्स चावल, 10 ग्राम सोया तेल, 80 ग्राम सब्जी मसाले के अलावा 250 ग्राम गर्म भोजन देने की योजना है।
  • योजना के तहत गर्भवती महिला को 16.80 ग्राम प्रोटीन और 662 ग्राम कैलोरी मिल सकेगी।
इसे भी पढ़े   जानिए क्या है उत्तर प्रदेश में मदरसा आधुनिकीकरण योजना, ऐसे मिलेगा मदरसों को योजना

महतारी जतन योजना प्रमुख तत्व

  • प्रत्येक बी.पी.एल उपभोक्ता को 82 पैसे की दर चावल मिलेगा।
  • योजना के तहत जिले के 6 परियोजना कार्यालयों के 8,818 गर्भवती महिलाओं को गर्म भोजन पौष्टिक आहार युक्त दिया जाएगा।
  • मिक्स दाल 3.50 रुपए की दर से
  • सोया तेल 80 पैसे की दर से
  • सब्जी 2.50 रुपए की दर से
  • अन्य व्यय 80 पैसा व इंधन व्यय सहित 1 महिला हितग्राहियों पर 8.20 रुपए खर्च करने का बजट तय किया गया है

महिलाओं की स्पष्ट प्रतिक्रिया

विभाग द्वारा योजना उपरांत एक सर्वेक्षण किया गया था। इस दौरान कई महिलाओं ने अपनी राय रखी थी। महिलाओं के मुताबिक यदि आंगनबाड़ी केंद्र में मिलने वाला भोजन कुछ अलग हो तो योजना के प्रति आकर्षण बढ़ेगा।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है मध्य प्रदेश सरकार की पालिकामत्री पृथ्वी चलती मशीनें खारेदी योजना

महतारी जतन योजना प्रमुख लक्ष्य

प्रदेश की लगभग ढाई लाख महिलाओं को महतारी जतन योजना का लाभ दिलाने का लक्ष्य रखा गया है।

महतारी जतन योजना के तहत इन प्रमुख जिलों को मिलेगा लाभ

·        कोरिया

·        बेरला

·        बेमेतरा

·        साजा

·        नवागढ़

·        खंडसरा

 महतारी जतन योजना का निष्कर्ष

माताएं सुपोषित होंगी तभी तो बच्चे भी सुपोषित होंगे। बच्चे स्वस्थ हो, उन्हें उचित पोषण मिले जिससे स्वस्थ समाज का विकास होना निश्चित है। इसके अलावा पूर्ण कुपोषण मुक्त राज्य का निर्माण होना तय है। यह तो सरकार द्वारा दिया जाने वाली एकमात्र सहायता है लेकिन गर्भवती महिलाओं का ध्यान रखना परिवार का भी दायित्व है।

Click to comment

Most Popular

To Top