बिहार

जानिए क्या है बिहार सरकार की मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृति योजना

जानिए क्या है बिहार सरकार की मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृति योजना

बिहार राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना 2017 (एमएमएसवाई) का शुभारम्भ किया है। इस योजना के तहत राज्य सरकार 10वीं कक्षा के अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावी विद्यार्थियों को 10000 रुपये छात्रवृत्ति के तौर पर प्रदान किए जाते है।

इस योजना का संचालन पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग द्वारा किया जा रहा है। इस योजना को राज्य में 2008-09 को प्रारम्भ किया। इस योजना के तहत पात्र 10वीं कक्षा में प्रथम श्रेणी में पास विद्यार्थी है। इस योजना का लाभ लेने के लिए पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को bcebcwelfare.bih.nic.in पर ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भरकर छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।

क्या है मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना

बिहार सरकार ने “मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग छात्रवृत्ति योजना का शुभारम्भ किया है। इस योजना के अंतर्गत मेघावी विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार 10th कक्षा के अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावी विद्यार्थियों को 10000 रुपये छात्रवृत्ति के तौर देगी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है सौर सुजला योजना, अब सरकार देगी सोलर पंप लिए पैसा, जानें तरिका

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना का उद्देश्य अंतर्गत मेघावी छात्रो को छात्रवृत्ति प्रदान करना है गरीबी के कारण बच्चो को पढाई छोडनी पढती है और बच्चो का भविष्य अंधकार में चला जाता है इसलिए बिहार सरकार ने मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना को शुरु किया है।

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना का लक्ष्य

* बिहार सरकार ने अति पिछड़ा वर्ग के मेधावी छात्रों के लिए वर्ष 2017 की छात्रवृत्ति की राशि जारी कर दी है।

* इस योजना के तहत दी जाने वाली छात्रवृत्ति की राशि जिलों को भेज दी गई है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है गुजरात सरकार की श्रमिक अन्नपूर्णा योजना, मिलेगा ये फायदा


* बिहार विद्यालय परीक्षा से वर्ष 2017 में दसवीं की परीक्षा प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण करने वाले अत्यंत पिछड़ा वर्ग के छात्र/ छात्राओं को छात्रवृति दी जाएगी।

* ये राशि 32 करोड़ 54 लाख 70 हजार जारी की है जो प्रति छात्र/ छात्राओं को दस-दस हजार रुपये छात्रवृति दी जाएगी।

* विभाग ने सभी जिला कल्याण पदाधिकारियों को बैंक खाते में आरटीजीएस के माध्यम से छात्रवृत्ति भुगतान का निर्देश दिया है।

* जो राशि खर्च नहीं होगी उसे विभाग को वापस करना होगा।

* इस वर्ष प्रथम श्रेणी में मैट्रिक की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले अत्यंत पिछड़ा वर्ग के 32 हजार 547 छात्र/ छात्राओं को छात्रवृत्ति का भुगतान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना के लिए योग्यता

* आवेदक इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए इस वेबसाइट में जा सकता है bcebcwelfare.bih.nic.in

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है दिल्ली सरकार की आम आदमी बीमा योजना, ऐसे करें आवेदन

* लाभार्थी बिहार का रहने वाला हो।

* आवेदक के पास बैंक अकाउंट होना अनिबार्य है।

* आवेदक ने मैट्रिक की परीक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की हो।

* इस योजना के तहत पात्र 10वीं कक्षा में प्रथम श्रेणी में पास विद्यार्थी है।

* इस योजना का लाभ लेने के लिए पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म बरना होगा।


मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना के लिए दस्तावेज


* आवेदक का जाति प्रमाण-पत्र।

* आवेदक प्रवेश पत्र।

* विद्यार्थियों अंक पत्र।

* आवासीय प्रमाण-पत्र।

* आधार कार्ड संख्या।

* बैंक खाता।

* बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से उपलब्ध करायी गयी सूची के आधार पर आवश्यक कागजात की जांच की जाए।

* छात्रवृत्ति के भुगतान के बाद समय पर महालेखाकार को उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया जाए तथा उसकी एक प्रति विभाग को देंगे।

Click to comment

Most Popular

To Top