मध्य प्रदेश

जानिए क्या है मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना योजना, मुफ्त पाएं गैस कनेक्शन

जानिए क्या है मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना योजना, मुफ्त पाएं गैस कनेक्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संचालित एवं बहुचर्चित योजनाओं में से एक ‘प्रधानमंत्री उज्जवला योजना’को मध्य प्रदेश राज्य में सुशासित ढंग से लागू किया गया है।

जिसके तहत अगले तीन साल में प्रत्येक महिला को सरकार 50 लाख LPG कनेक्शन वितरित करेगी। इनमें से 35 लाख गैस कनेक्शन गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों में वितरित किए जाएंगे। जबकि 15 लाख अन्य परिवारों को मिलेंगे।

क्या है प्रधानमंत्री उज्जवला योजना

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की शुरुआत पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा यूपी स्थित बलिया में 1 मई 2016 को की गई थी। योजना के तहत देश में गरीबी रेखा से नीचे जीवन जीने वाले लोगों को LPG कनेक्शन प्रदान किए जाएंगे।

मध्य प्रदेश में लागू योजना

प्रथम चरण में शामिल देश के पांच राज्यों में मध्यप्रदेश को भी शामिल किया गया है। जहां राज्य मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वयं योजना का विस्तार करते हुए सात हजार गैस कनेक्शन वितरित किए थे। प्रदेश में पिछले दो साल में 23 लाख गैस कनेक्शन दिए गए हैं, जिसमें से 17 लाख घर में एलपीजी गैस कनेक्शन हैं।

·       प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की शुरुआत स्वयं प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शहडोल में की गई थी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है ग्रीन शहरी परिवहन योजना, कैसे देश को बनाया जाएगा प्रदुषण मुक्त

·       योजना के तहत एलपीजी कनेक्शन सभी बी.पी.एल परिवारों में वितरित किए जाएंगे।

उज्जवला योजना का लाभ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संकल्प से अब महिलाओं का चूल्हे फूंकना बंद होगा और उन्हें गैस चूल्हा मुफ्त दिया जाएगा। इसी कड़ी में ग्रामीण क्षेत्रों में चूल्हे पर खाना बनाने वाली महिलाओं के जीवन को सुरक्षित करने के लिए प्रधानमंत्री उज्जवला योजना बनाई गई है।

उज्जवला योजना की
 विशेषताएं

·       योजना के तहत जिन बी.पी.एल कार्डधारियों को गैस कनेक्शन दिया जाएगा उनका नाम गरीबी रेखा की सूची से नहीं काटा जाएगा।

·       योजना के जरिए महिलाओं को सशक्त बनाने के साथ उनके स्वास्थ्य की रक्षा करना है।

·       जीवाश्म ईंधन पर आधारित खाना पकाने के साधनों से जुड़े गंभीर स्वास्थ्य के खतरों को कम करना है।

·       जीवाश्म ईंधन से होने वाले वायु प्रदुषण के कारण सांस लेने की वजह से होने वाली बीमारियों से युवा बच्चों को सुरक्षित रखना इस योजना की प्रमुख विशेषता है।

उज्जवला योजना के लिए पात्रता

·       योजना के तहत केवल BPL परिवार की महिलाएं ही आवेदन कर सकती है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है आंध्र प्रदेश सरकार की नि:शुल्क स्मार्टफोन योजना, ऐसे मिलेगा लाभ

·       आवेदक का नाम SECC-2011 के डेटा की सूची में होना अनिवार्य है।

·       आवेदक 18 वर्ष की आयु से ऊपर की एक महिला होना अनिवार्य है।

·       महिला आवेदक बी.पी.एल से संबंधित होनी चाहिए।

·       महिला आवेदक का देश भर में किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में बचत बैंक खाता होना चाहिए।

·       आवेदक के घर में पहले से ही किसी अन्य के नाम पर एक एलपीजी कनेक्शन नहीं होना चाहिए।

आवेदन हेतु जरुरी दस्तावेज़

योजना के तहत उम्मीदवारों को SECC-2011 के आंकड़े के आधार पर चुना जाएगा। लेकिन सरकार की महत्वपूर्ण मानदंडो के अनुसार आवेदनकर्ता फोर्म भर सकते है।

·       बी.पी.एल प्रमाण पत्र पंचायत प्रधान/ नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा अधिकृत

·       बी.पी.एल राशन कार्ड

·       आधार कार्ड या वोटर आईडी कार्ड

·       एक फोटोग्राफ

ये सभी दस्तावेज़ योजना के तहत मिलने वाले फोर्म के साथ सलंग्न करने होंगे। फोर्म हिन्दी और अग्रेंजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध होंगे।
योजना प्रमुख बिंदु

·       सरकार पहले वित्त वर्ष 2016-17 के लिए उज्जवला योजना के कार्यान्वयन के लिए 2000 रुपए का आवंटन किया है। सरकार प्रथम वित्त वर्ष में 1.50 करोड़ बी.पी.एल परिवारों को एलपीजी गैस कनेक्शन वितरित करेगी।

इसे भी पढ़े   बेटी के जन्म से 12वीं तक राजस्थान सरकार देगी पचास हजार रूपये.. जानिये कैसे

·       योजना पर सरकार द्वारा 8000 करोड़ रुपए की धनराशि खर्च की जाएगी यह राशि आने वाले तीन साल में परिपूर्ण होगी।

·       योजना के लिए पैसे गिव इट अप अभियान के माध्यम से LPG  सब्सिडि के बचाए पैसों से योजना को शुरु किया गया है।

·       योजना के तहत मिलने वाली वित्तीय सहायता

·       योजना के जरुए 1600 रुपए में प्रत्येक BPL परिवार को LPG कनेक्शन उपलब्ध होंगे।

·       सरकार चुल्हा और सिलेंडर लेने के लिए इएमआई की सुविधा भी देगी।

उज्जवला योजना का लक्ष्य

·       योजना को पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा शुरु किया गया था

·       यह योजना आगामी तीन वर्षों के लिए लागू है जिसमें 2016-17,2017-18 और 2018-19 है।

·       साल 2018-19 में 5 करोड़ बी.पी.एल परिवारों को एलपीजी कनेक्शन वितरण करना।

·       योजना का कुल बजट 8000 करोड़ तय किया गया है।

टोल फ्री नंबर पर अधिक जानकारी के लिए कॉल करें 1800 266 6696

Click to comment

Most Popular

To Top