झारखंड

जानिए क्या है झारखंड सरकार की विधवाओं के लिए भीमराव अंबेडकर योजना, मिलेगा ये फायदा

जानिए क्या है झारखंड सरकार की विधवाओं के लिए भीमराव अंबेडकर योजना, मिलेगा ये फायदा

14 अप्रैल 2016 का दिन उन तमाम झारखंड विधवा महिलाओं के लिए ख़ास रहा जिन्हें बूढ़ी अवस्था में विधवा आश्रम का रुख करना पड़ता है। संविधान रचियता डॉ.भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयंती के मौके पर झारखंड मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा भीमराव अंबेडकर आवास योजना की शुरुआत की गई। जिसके तहत प्रत्येक विधवा महिला को अब सरकार स्वयं का आवास उपलब्ध करेगी।

झारखंड में विधवाओं के लिए भीमराव अंबेडकर आवास योजना

राज्य में मुख्यमंत्री ने विधवाओं के लिए भीमराव अंबेडकर आवास योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत पहाड़ी क्षेत्रों में एक घर बनाने के लिए 75000 और सादा क्षेत्रों में 70000 रुपए विधवाओं को वित्तीय सहायता रुप में प्रदान की जाएगी।

योजना लागू करने का प्रमुख उद्देश्य

इस योजना का उद्देश्य विधवाओं को अपने पति की मृत्यु के बाद अपनी जिंदगी आसान बनाने के लिए मौद्रिक सहायता प्रदान करना है। देखा जाए तो राज्य सरकार द्वारा यह कारगार पहल है जिसके जरिए प्रत्येक विधवा को सुविधा दी जा रही है, उन्हें उनका घर दिया जा रहा है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है महाराष्ट्र में प्रधानमंत्री आवास योजना, सर्वेक्षण गृह योजना, ऐसे करें आवेदन

योजना प्रमुख तत्व

ददेखा जाएं तो यह वित्तीय सहायता झारखंड जिलों में समाज में समानता और सामंजस्य स्थापित करने में अहम भूमिका अदा करेगी।
इस योजना के जरिए संविधान में दर्ज किए गए विकास को सुनिश्चित किया जा सकेगा। वहीं प्रत्येक महिला आत्मनिर्भर बनने के साथ सम्मान की जिंदगी जीने का साहस कर सकेगी।

इस योजना के लिए राज्य सरकार वित्तीय वर्ष 2016-17 में सरकार 80 करोड़ रुपए के बजट के आवंटन के साथ 11000 घरों का लक्ष्य बना रही है।

लाभार्थियों को अपने बैंक खातों में सीधे उनकी राशि मिलेगी और सरकार इस राशि को तीन किस्तों में वितरित करेगी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है हिमाचल सरकार की ड्रेस योजना, छात्रों को मुफ्त में मिलेगी ड्रैस


जीवन को आसान और स्वतंत्र बनाने के लिए सभी पात्र महिलाओं को सहायता दी जाएगी।

भीमराव अम्बेडकर आवास योजना के लाभ

  • झारखंड राज्य में विधवा महिलाओं को इस योजना के अंतर्गत लाभ दिया जाएगा।
  • सरकार ने पहाड़ी क्षेत्रों में एक घर बनाने के लिए 75000 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की है।
  • झारखंड जिलों में सादा क्षेत्रों में घर बनाने के लिए 70000 रुपए की वित्तीय सहायता देगी।

योजना पात्रता

  1. इस योजना का लाभ केवल झारखंड निवासी ले सकता है।
  2. विधवा महिलाएं इस योजना की पात्र मानी जाएंगी।
  3. 30 वर्ष से अधिक आयु वर्ग की आवासविहीन विधवा मुखिया परिवार।
  4. 30 वर्ष से अधिक आयु वर्ग की आवासविहीन विधवा मुखिया परिवार, जिनका एक कमरे का कच्चा आवास हो।
  5. आवेदक की मासिक आय 5000 रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
इसे भी पढ़े   जानिए क्या है सीएम योगी की विधवा पेंशन योजना, सरकार ने उठाया ये कदम

योजना प्रमुख दस्तावेज़

  1. आधार कार्ड
  2. निवास प्रमाण पत्र
  3. पति का मृत्यु प्रमाण पत्र
  4. बैंक खाता विवरण
  5. पासपोर्ट साइज फोटो

ऐसे करें आवेदन

योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक झारखंड निवासी होना अनिवार्य है। जिसके बाद वह राज्य संबंधी जिले में ग्राम पंचायत या जिला परिषद में संपर्त कर सकता है।

आवेदक झारखंड में कलेक्टर कार्यालय में भी अपना आवेदन सुनिश्चित कर सकते है। इसके अलावा राज्य की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर योजना से जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है।
अधिक जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें http://www.jharkhand.gov.in/

Click to comment

Most Popular

To Top