जानिए क्या है हिमाचल सरकार की शिक्षक सम्मान योजना, इन शिक्षकों को मिलेगा सम्मान
मुख्यमंत्री योजना

जानिए क्या है हिमाचल सरकार की शिक्षक सम्मान योजना, इन शिक्षकों को मिलेगा सम्मान

हिमाचल प्रदेश पिछले कुछ समय से लगातार नई नई योजनाएं जारी कर, सबके लिए राहत का काम कर रही है। एक ऐसी ही कारगार योजना का विस्तार राज्य सरकार द्वारा किया गया है जिसके तहत प्रत्येक शिक्षक को सम्मानित किया जाएगा। जी हां, राज्य सरकार द्वारा ‘मुख्यमंत्री शिक्षक सम्मान योजना’ का आह्वाहन किया गया है। जिसके अधीन 100 प्रतिशत देने वाले शिक्षकों को सरकार अब सम्मान देगी।

क्या है मुख्यमंत्री शिक्षक सम्मान योजना

प्रदेश मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने बजट 2016 के भाषण में ‘मुख्यमंत्री शिक्षक सम्मान योजना’ की घोषणा की थी। जिसके बाद हाल ही में इस योजना के लाभान्वित शिक्षकों को चयनित किया गया था। बता दें राज्य ख़ासतौर से शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए इस योजना की शुरुआत कर रहा है जिसके अंतर्गत शिक्षकों के सम्मान में एक वर्ष के विस्तार के साथ मौद्रिक सम्मान भेंट के रुप में दी जाएगी। बशर्त शिक्षक पिछले पांच सालों में विशेष रुप से गणित, विज्ञान और अंग्रेजी जैसे विषयों में 100 प्रतिशत परिणाम दे चुका हो।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है स्वदेश दर्शन और प्रसाद योजना, तीर्थस्थानों को होगा ये फायदा

योजना लागू करने का उद्देश्य

छात्र देश के नए युवा पीढ़ी है जिनके आधार पर ही देश की आर्थिक स्थिति टीकी है। ऐसे में उनकी शिक्षा के साथ खिलवाड़ करना देश को बीमार करना जैसा है। देश के नवयुवकों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए ही राज्य सरकार द्वारा कई कार्यशील योजनाओं की शुरुआत की जा रही है। इन्हीं में से एक है ‘मुख्यमंत्री शिक्षक सम्मान योजना’ जिसके तहत शिक्षको सम्मान देने के साथ शिक्षा व्यवस्था में सुधार किया जाएगा।

योजना प्रमुख तत्व

योजना के तहत केवल कठिन परीक्षाओं के परिणामों पर ही गौर किया जाएगा। इनमें विशेष रुप से गणित, विज्ञान और अंग्रेजी जैसे विषय शामिल है।

टी.जी.टी, पी.जी.टी, हेडमास्टर्स और प्रिंसिपल सहित शिक्षकों को 100 प्रतिशत परिणाम दिए जाने की वज़ह उन्हें सेवा में एक साल का विस्तार और मौद्रिक पुरस्कार दिया जाएगा।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री युवा पेशेवर विकास कार्यक्रम, इन युवाओं को मिलेगी नौकरी

प्रदेश के शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों के सभी शिक्षकों को सरकारी स्कूलों में गिरावट दर्ज करने में सुधार के लिए सरकारी संस्थानों में नामांकन दर और सामान्य जनता दृष्टिकोण को बढ़ाने के लिए निर्देश दिए है।

योजना प्रमुख लक्ष्य

योजना के तहत राज्य सरकार जल्द ही पिछले पांच सालों में अच्छे अकादमिक प्रदर्शन के साथ शिक्षकों को पुरस्कृत करेगी।

योजना के तहत शिक्षकों में मुख्यतौर से टी.जी.टी, पी.जी.टी, हेडमास्टर्स और प्रिंसिपल को अच्छी शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित किया जाएगा।

योजना के तहत शिक्षकों को स्थानीय स्तर पर निजी स्कूलों में सुधार लाने के लिए कहा गया है।

जिसके अंतर्गत स्थानीय लोगों की भागीदारी के लिए गतिविधियों को व्यवस्थित करने के लिए उन्हें प्रतिबाधित किया जाएगा।

योजना प्रमुख लाभ

योजना के तहत 100 प्रतिशत परिणाम लगातार देने के लिए शिक्षक प्रेरित होंगे। जिससे शिक्षा व्यवस्था में सुधार संभव है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है अटल मिशन, अब हर गांव में होंगी मूलभूत सुविधा

शिक्षकों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने और शिक्षकों के प्रदर्शन में सुधार लाने के लिए प्रेरणा मिलेगी।

सम्मान योजना के तहत 4000 से अधिक छात्रों को लाभ पहुंचेगा।

योजना प्रमुख बिन्दु

प्रदेश सरकार सभी विधानसभा क्षेत्रों में दो-दो वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं को आदर्श विद्यालय के रूप में विकसित करने की योजना बना रही है।

मुख्यमंत्री आदर्श विद्यालय योजना के तहत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में चिन्हित विद्यालयों में अत्याधुनिक सुविधाएं सृजित की जाएंगी।
योजना के तहत प्रदेश सरकार ने इस वित्त वर्ष में 30 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।

जानिए क्या है हिमाचल सरकार की शिक्षक सम्मान योजना, इन शिक्षकों को मिलेगा सम्मान
Click to comment
To Top