प्रधानमंत्री योजना

जानिए क्या है अटल मिशन, अब हर गांव में होंगी मूलभूत सुविधा

जानिए क्या है अटल मिशन, अब हर गांव में होंगी मूलभूत सुविधा
जानिए क्या है अटल मिशन, अब हर गांव में होंगी मूलभूत सुविधा

छोटे शहरों एवं कस्बो में भी मूलभूत आवश्यकताओ से जुडी बहुत समस्याए है एवं उनके लिए कुछ खास प्रबँध नहीं, बहुत सी ऐसी समस्या हैं जिनको लेकर शहरों एवं कस्बो के लोगो को बहुत सारी समस्याए थी जैसे – पेयजल , बिजली , परिवहन इत्यादि।

लेकिन मोदी सरकार ने आते ही इन सब समस्याओ के निवारण के लिए बहुत ही अच्छी सुविधा की घोषणा की जिसका नाम है अटल मिशन फॉर रिजूविनेशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन या “अमृत योजना ” यह मोदी सरकार का बहूत अनूठा प्रयास है शहरी एवं कस्बो के संपूर्ण विकास के लिए ।

क्या है अटल मिशन फॉर रिजूविनेशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन

अटल मिशन फॉर रिजूविनेशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन (अमृत) योजना जिसका शुभारम्भ 25 जून 2015 को विज्ञान भवन में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया इस योजना का उद्देश्य है घरों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराना जैसे कि जल आपूर्ति, सीवरेज, शहरी परिवहन आदि।

जिससे सभी नागरिकों के जीवन की गुणवत्ता में वृद्धि हो सके खासकर गरीब और विकलांग लोगों के जीवन में। वित्त वर्ष 2015 से पांच वर्ष के लिए अमृत पर 5000 करोड़ खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है मध्यप्रदेश में एमपी हाउसिंग गारंटी अधिनियम बिल, अब सभी को मिलेगा घर

अमृत को सफल बनाने का प्रयास

अमृत परियोजना के अंतर्गत जिन कस्बों या क्षेत्रों को चुना जायेगा वहां बुनियादी सुविधाएं जैसे- बिजली, पानी की सप्लाई, सीवर, कूड़ा प्रबंधन, वर्षा जल संचयन, ट्रांसपोर्ट, बच्चों के लिये पार्क, अच्छी सड़क और चारों तरफ हरियाली, आदि विकसित की जायेंगी।

इनके अतिरिक्त ई-गवर्नेन्स के माध्यम से कई ऐसी सुविधाएं दी जायेंगी जो लोगों के जीवन को सुगम बनायेंगी। हर क्षेत्र के अंतर्गत नगर निकाय की कमेटियां होंगी, जो इस परियोजना को सफल बनाने की जिम्मेदारी उठायेंगी।

अमृत मिशन के मूल तत्व इस प्रकार हैं

पानी की उचित आपूर्ति:
जलआपूर्ति प्रणालियों का निर्माण एवं रख-रखाव करना
पुराने जलापूर्ति प्रणालियों का पुनर्वास करना
पुराने जल निकायों का कायाकल्प करना
दुर्गम क्षेत्रों के लिए विशेष पानी की व्यवस्था करना

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है सीएम योगी की अन्नपूर्णा भोजनालय योजना, कैसे पाएं 5 रुपये में भरपेट खाना

सीवेज सुविधा

भूमिगत सीवेज प्रणाली का निर्माण एवं रख-रखाव करना
पुरानी सीवेज प्रणालियों एवं उपचार संयंत्रों का पुनर्वास करना
जल संसाधनों की पुनरावृत्ति करना अथवा अपशिष्ट जल का पुन: उपयोग करना

सेप्टिक

मल प्रबंधन
नाली और सेप्टिक टैंक की जैविक और यांत्रिक सफाई करना
बाढ़ के पानी की निकासी
प्रभावी बाढ़ जल निकासी प्रणाली का निर्माण एवं रख-रखाव करना जिससे बाढ़ द्वारा होने वाली तबाही को रोका जा सके

शहरी परिवहन

उचित फुटपाथों एवं रास्तों का निर्माण करना एवं गैर मोटर चालित परिवहन के लिए सुविधाएं उपलब्ध करना
विभिन्न स्थानों पर बड़े लेवल की पार्किंग का निर्माण एवं रख-रखाव करना
विभिन्न स्थानों पर बस रैपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम की स्थापना करना
दूरसंचार
स्वास्थ्य
शिक्षा इत्यादि

अमृत से जुड़ी महत्वपूर्ण  तथ्य निम्न है

1- कस्बों का कायाकल्प करने वाली इस परियोजना का हर क्षेत्र में नियमित रूप से ऑडिट किया जायेगा।

2-बिजली का बिल, पानी का बिल, हाउस टैक्स, आदि सभी सुविधाएं ई-गवर्नेन्स के माध्यम से सुनिश्चित की जायेंगी।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है समाजवादी स्वास्थ्य बीमा योजना, कैंसर का होगा मुफ्त इलाज

3-जो राज्य बेहतर ढंग से इस परियोजना को आगे बढ़ायेंगे उनके लिये बजट में 10 प्रतिशत तक का अवंटन किया जायेगा।

4-यह उसी कस्बे में लागू होगी, जहां की जनसंख्या एक लाख से ज्यादा है। 5-उन छोटे शहरों में लागू होगी, जहां से छोटी-छोटी नदियां गुजरती हैं।

5-उन पहाड़ी इलाकों व द्वीपों पर लागू होगी, जहां पर्यटन का स्कोप ज्यादा है।

6-जिन राज्यों की सरकारें इसे अच्छे ढंग से आगे बढ़ायेंगी उनके लिये बजट आवंटन भी बढ़ा दिया जायेगा।

Click to comment

Most Popular

To Top