आंध्र प्रदेश

जानिए क्या है आंध्र प्रदेश सरकार की बेरोजगार युवाओं के लिए बेरोजगारी भत्ता योजना

जानिए क्या है आंध्र प्रदेश सरकार की बेरोजगार युवाओं के लिए बेरोजगारी भत्ता योजना

देश के भिन्न भिन्न राज्यों में जिस तरह योजनाओं का सिलसिला जारी है उसी तरह आंध्र प्रदेश में भी गरीब, असहाय, बेरोजगार और महिलाओं के लिए कई कारगार योजना की शुरुआत की जा रही है। हाल ही में राज्य मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू ने 70वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राज्य के तिरुपती नगर में बेरोजगारी भत्ता देने का ऐलान किया है। इस योजना का उद्देश्य राज्य की बेरोजगारी को जड़ से उखाड़ फेंकना है।

आंध्र प्रदेश की बेरोजगार भत्ता योजना

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडु ने घोषणा की है कि प्रदेश के रोजगार कार्यालयों में पंजीकृत बेरोजगार युवाओं को 2000 रुपए वित्तीय सहायता के रुप में उपलब्ध की जाएगी। बता दें राज्य में सत्ताधारी तेलगु देशम पार्टी ने अपने 2014 के घोषणा पत्र में भी बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने की बात कही थी। वहीं अब अपनी बात को एक सिरे से पूरा करते हुए राज्य मुख्यमंत्री ने प्रदेश निवासी का दिल जीतने का काम किया है।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है मध्यप्रदेश सरकार की अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति मुख्यमंत्री विदुषी योजना

योजना लागू करने का उद्देश्य

बेरोज़गारी हमारे देश की मूलभूत समस्याओं में से एक है जिसकी वज़ह से पढ़े लिखो को जहां कम आय के साथ समझौता करना पड़ता है तो वहीं 10वीं और 12वीं के नवयुवाओं को बेरोजगारी जैसे स्थिति से गुजरना पड़ता है। इन परिस्थितियों से ही निपटने के लिए आंध्र प्रदेश सरकार द्वारा बेरोजगार भत्ता योजना की शुरुआत की गई है। वहीं इस योजना के तहत आंध्र प्रदेश देश का ऐसा पहला राज्य बन गया है जहां सबसे ज्यादा बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।

पात्रता

·        योजना के तहत आवेदन एवं लाभार्थी केवल वहीं बन सकता है जो आंध्र प्रदेश राज्य का निवासी हो।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है आंध्र प्रदेश सरकार की श्रमिक चन्द्रानन बीमा योजना

·        आवेदनकर्ता की आयु 18 से 40 वर्ष तक होनी चाहिए।

योजना की कुछ महत्वपूर्ण बातें

·        योजना के तहत उन्हीं बेरोजगार युवकों को शामिल किया जाएगा जिनकी आयु 18 से 40 वर्ष के बीच की है।

·        योजना के तहत भत्ता, बेरोजगार युवक की क्वालिफिकेशन यानि पढ़ाई को देखकर दिया जाएगा।

·        योजना के तहत पोस्ट ग्रेजुएट बेरोजगार युवक को 2,000 रुपए हर महीने दिए जाएंगे।

·        वहीं जो युवक ग्रेजुएशन करने के बाद भी बेरोजगार है उन्हें इस योजना के तहत 1,500 रुपए मिलेंगे।

·        वह बेरोजगार युवक जो 12 वीं पास करने के बावजूद बेरोजगार है उन्हें योजना के जरिए 1,000 रुपए दिए जाएंगे।

इसे भी पढ़े   जानिए क्या है प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, कैसे बनवाएं अपने गांव की सड़क

·        इसके लिए सरकार ने 500 करोड़ के बजट का प्रावधान किया है।

·        राज्य में करीब 12 लाख बेरोजगार हैं।

·        आंध्र के अलग अलग रोजगार कार्यालयों में पंजीकृत हैं।

·        आंध्र प्रदेश की बीजेपी सरकार ने प्रदेश के बेरोजगारों के लिए बेरोजगार भत्ता देने की योजना बनाई है।

·        सरकारी सुत्रों के मुताबिक राज्य में इस योजना को अक्टूबर माह में विजय दशमी के दिन लॉन्च किया जा सकता है।

Click to comment

Most Popular

To Top